BETWEEN ARTICLE

How to earn from share market

It takes patience to earn in the stock market. Now Gurmeet Chadha has written about a friend that he is taking 10 Infosys shares every month since 2005, and now he has 12540 shares.

Warren Buffett’s wealth grew at a real rapid rate after he turned 65. This is amazing of compounding rate. Good companies in the stock market grow at a rate of about 20% or more.

A share is a part of a company. Therefore, if the company progresses, then your share will increase. Because the stock market gives good income, there is a demand for some hard work. So, never invest on anyone’s advice. Consultants are full.

How to find good stocks? First of all, take a look at the things you do on a daily basis. Companies often do well for things that are useful to you in your daily life. Peter Lynch’s wife brought a women’s robe from a nearby shop and was very pleased with it.

Lynch was surprised by the clothing thing at the Egg Braid shop. That company decided to sell it in such shops because where women go to the supermarket a couple of times a month, at least twice a week at these shops! Lynch found the company.

The company was making decent profits but its stock was cheap. This stock made a lot of money for Lynch. When the lock-down happened, I felt that two things would not be reduced.

Internet work and food. I invested in TCS, and invested in Tata Consumer, a company that makes pulses and spices. In the coming time, the era of electric vehicles will come.

While sona BLW’s IPO didn’t have much craziness, we got it easily. After that buy more, because, it makes parts of buttery cars for the biggest car companies in the world. Nowadays the shares of auto companies are down, because there is a problem in getting semi-conductors, therefore, cars are being made less.

This problem will be over in a few months. Some factors are easier to understand. One way to gauge a company’s performance is whether it is taking measures to get rid of debt. Pay a little attention to the company which is trying to become debt free.

Is it good. There are four important ratios. You do not need to calculate this ratio yourself. Is she using her capital properly? Return on capital employed (ROCE) is a good baseline measure of a company’s performance. ROCE is a financial ratio that shows if a company is doing a good job of derived profits from its capital. … In many cases, it can mean the difference between the company generating a positive financial return or losing money.

That is, is that company using its capital properly, to earn profit? Similarly, Return on equity (ROE) is the measure of a company’s net income divided by its shareholders’ equity. Meaning, how is she using the money she has in the shares. You will find both of these from many websites, such as Screener.

The higher the ROE and ROCE, the better the company is. Conversely, the PE should be low. PE is the ratio of a share’s profit to its price. This is also easily available. Lower PE means the stock is cheaper. If all the three ratios are good then you have got the treasure.

While Divis’ shares were at a high, Hikal’s PE was very low. Both were in business in the same field. Specialty Chemicals. That stock gave a lot of profit. Similarly, the shares of Caplin Point (Drugs) and ICICI Securities have come out on this scale and did well. No one was buying either.

The day the market got its attention, it was fun. Fourth is the work ratio, CAGR. CAGR shows the average annual growth of an investment over a given time period. Like CAGR of one year or CAGR of 5 years. It is assumed that the value of the investment compound over the period. , If your stock increases by 20% annually: in 5 years: 248832 in 10 years: 619173 in 15 years: 1540702 in 20 years: 3833759 in 25 years: 9539621 Warren Buffet started investing at the age of 10. Their wealth growing at compound interest rates is amazing, as you have seen above. Once you have an FD, you don’t break it, unless it is necessary. Share it like that.

You can take advantage of the downturn in the market by shopping. Do not sell the stock when the market falls. Sell only if there is a drastic change in the company or environment. For example, in the coming times, the days of petrol companies may not be good. As long as you don’t understand the market or lack the time (to research it), you can invest in mutual funds too.

There are many good flexi funds. You can read two books. Wealth Creation Study, 2020 and 26th wealth creation study, this is by Motilal Oswal, and you will get it free on the net. The second is ‘One Up on the Wall Street’ – Peter Lynch in Hindi and English, and is on Amazon. Invest, don’t gamble, stay safe.

क्या यूपीएससी जैसे बड़े एग्जाम बेरोजगारी को बढ़ावा देते हैं?

हम भारतीयों को गर्व है कि UPSC (IAS/IPS/IFS) क्रैक करने वाले 0.2% लोग तुरंत सेलिब्रिटी बन जाते हैं। लेकिन शेष 99.8% का क्या जो अपने जीवन के कुछ सबसे अधिक उत्पादक वर्षों को बर्बाद कर देते हैं?

★ अगर हम निवेश पर लाभ का विश्लेषण करें: ‘परीक्षा में असफल लोगों के लिए समय बर्बाद’ बनाम ‘सफल लोगों द्वारा जोड़ा गया मूल्य’। एक बड़ा नकारात्मक होगा।

★ यूपीएससी में असफलता व्यक्ति के आत्मविश्वास को नष्ट कर देती है। आप समाज के लिए हारे हुए बन जाते हैं।

★ आपके मित्र जो पहले से ही 4 साल के कॉर्पोरेट अनुभव के साथ नाइट क्लबों में पार्टी कर रहे हैं, आपको नीचा देखते हैं।

★ कंपनियां आप में ज्यादा दिलचस्पी नहीं ले रही हैं क्योंकि आपके रिज्यूमे में एक ‘गैप’ है। और यह सब सरकार द्वारा हमारे करों पर प्रायोजित है!

फिर भी, कई लोग अपने 20 के दशक के 4-5 साल देश भर में छोटे-छोटे अंधेरे कमरों में बिताते हैं, जो हमें ‘सम्मान’, बड़े बंगले, नौकरी-चकर, अच्छी अरेंज मैरिज, बेहतर दहेज आदि कमाने के सपने को पूरा करने के लिए बेचते हैं।

क्या हम नागरिक हैं भारत का एहसास:

हर साल, १००० सरकारी अधिकारियों को तैयार करने के लिए, हम १५०,०००+ लोगों के जीवन को बर्बाद करने पर अपना पैसा खर्च कर रहे हैं?

बड़ा सवाल यह है कि लोगों के कल्याण के लिए काम करने वाली सरकार की सार्वजनिक नीति में उन 99.8% युवा कुशल आवेदकों के लिए कोई योजना बी क्यों नहीं है, जो यूपीएससी की तैयारी के लिए अपने 20 के 4-5 साल बिताते हैं?

सरकार क्यों। ऐसे देश में ऐसी प्रणाली तैयार करता है जिसमें पहले से ही बेरोजगारी और गरीबी के बड़े मुद्दे हैं? इस पर आपके विचार क्या हैं?

क्या आप मुझसे सहमत या असहमत हैं?

पसंद आए तो लाइक, कमेंट और शेयर करें ताकि यह ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचे!

#india #upsc #ias #ips #upscaspirants #exams #coaching #ifs #FunFact:

यूपीएससी कोचिंग उद्योग जो केवल 1000 लोगों को चुनने में मदद करता है, बाकी #आकांक्षी से लगभग 3,000 करोड़ रुपये का राजस्व कमाता है।

Why are people getting less attention from the technical field? Why do people no longer want to do engineering?

Why are people getting less attention from the technical field? Why do people no longer want to do engineering?

The first answer was: Why is the public attention getting reduced from the technical field? Why do people no longer want to do engineering?

Unable Engineer – After B.tech, no engineer is able to work without training for at least 6 months or one year. And it becomes a burden for any company, and they overcome novices on the basis of lack of experience.

Supply Demand – There are about 4000 colleges in India. Together, 1.5 million engineers are made in a year, but every 300 members are in competition for one job.

Outdated syllabus – Technology is changing day by day but college syllabus is not changing with today’s technology. So how will engineers fight people with 10 year old syllabus.

I.T. Developments in areas – In the last 10 years, IT sectors have developed in India. That is why people got a job, but not all of them have knowledge of software, such as electronic, communication, mechanical, etc. In this case I.T. The sector fails and people are out.

Reputation – Some people think that B tech degree is more respectable than normal degree and parents also force children to think in the same way. In some states people also do B.tech for more dowry. .

naukri.com पर CV selection क्यों नहीं होता है ?10 Things Most People Don’t Know About Cv Selection

naukri.com पर CV selection क्यों नहीं होता है ?10 Things Most People Don't Know About Cv Selection

Cv selection ko leker hamehsha ek jobseekers pareshan rahte hai isliye maine kuch reserch ki hai aur aap logo to batane ka prayash kiya hai ki CV selection kyu nahi hota hai

cv selectio ke liye aapko kuch jaruri bate niche janne ko milegi in bato ko padkar aur implement karke aap online job portal per cv select karwa sakta hai .

 

Tough competition -

cv selection
cv selection


दोस्तों आजकल बेरोजगारी बहुत बढ़ गई है जब भी किसी प्राइवेट कंपनी में थोड़ी बहुत पोस्ट निकलती है तो आप देखेंगे एक दो नहीं बल्कि हजारों की संख्या में सीवी अपलोड किए जाते हैं और उस जॉब के लिए बहुत सारी जॉब एप्लीकेशन आ जाती है जिसकी वजह से सलेक्शन की जगह रिजेक्शन प्रोसीजर करना पड़ता है

 

HR CV को कैसे सेलेक्ट करता है यह एक बहुत ही गंभीर विषय है


Is Vishay per Maine artical likhane ke liye isliye Socha Kyunki meri ek website hai technicalviru.in
Jis per Mein engineering jobs aur construction jobs related post karta rahata hun aur in post ko mein Facebook group mein share karta hun Kafi Logon Ko benefit Ho

मगर बहुत से लोगों की समस्या यह है कि दिए गए लिंक पर CV भेजने के बाद भी वह सी भी सेलेक्ट नहीं होता है इसके क्या कारण हो सकते हैं आज इस विषय पर हम चर्चा करेंगे

Hr cv कैसे सेलेक्ट करता है इस विषय पर कुछ विशेष और इस फील्ड में माहिर प्रोफेशनल के विचारों को जानेंगे

cv selection
cv selection

RANJIT RAMCHANDRAN -HR PUNE MAHARASTA

मिस्टर रंजीत रामचंद्र जी का कहना है

कि एचआर कैंडिडेट ko एजुकेशन क्वालीफिकेशन ,उसका रिलेवेंट एक्सपीरियंस ,रिलेवेंट इंडस्ट्री के क्राइटेरिया के आधार पर CV सेलेक्ट करता है

लेकिन यह क्राइटेरिया कभी-कभी अच्छे कैंडिडेट को hire नहीं कर पाता है क्योंकि बहुत सारे कैंडिडेट CV ko sahi se jan nahi pate KI CV kaise likhna hai ?

How does an HR select kyu candidate from 100 of resume application?
Answer by
MR SHANTANU SAHA ( FOUNDER & CEO Recruiters)
ऊपर दिए गए प्रश्न का उत्तर मिस्टर शांत अमित शाह जी ने दिया है जो कि लगभग 20 साल से एचआर डिपार्टमेंट संभाल रहे हैं

उन्होंने बताया है कि वह किस तरह CV को सेलेक्ट करते हैं एक बार इनके द्वारा 10,000 इंटरव्यू कंडक्ट कराए गए और 2000 लोगों को 6 महीने के अंदर उन्होंने सेलेक्ट किया था
शाह जी ने बताया है कि रिपोर्टर सामान्यता सर्च फॉर्म जैसे कि naukri.com और दूसरे वेब पोर्टल पर जब भी किसी विशेष जॉब के लिए सीधी सेलेक्ट करते हैं

To unhen CV cal Prakar se prapt hote hain jaise ki LinkedIn profile se unke inbox per aur social media dwara.

CV SELECTION के दौरान HR Kuchh critical criteria set Karte Hain
is criteria के आधार पर CV सेलेक्ट करने में मात्र 10 सेकेंड का समय रहता है , इसलिए कैंडिडेट का CV बहुत ही short and to the point hona chahiye .

Bhale hi aapka Kitna bhi experience Kyon na ho lekin aapka CV bahut hi short shabdon Mein Hona chahie

CV सेलेक्ट होने के बाद का प्रोसीजर ? HR PROCEDURE AFTER CV SELECTION ?

cv selection
cv selection

सीजी सिलेक्ट होना एक फर्स्ट स्टेप होता है जो कि सबसे जरूरी स्टेप होता है लेकिन इसके बाद एचआर कुछ जरूरी स्टेप्स लेते हैं जो कि कैंडिडेट के सेलेक्ट होने के चांस को बढ़ाता है

फोन कॉल करना
face to face phone call
कम्युनिकेशन और पर्सनल स्कूल को चेक करना

CV को कैसे सिलेक्ट किया जाता है इस विषय पर ऐश्वर्या यादव के विचार जानेंगे?

Mrs ऐश्वर्या यादव

जो कि एमबीए होल्डर है और यह दिल्ली स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स में एचआर एंड लेबर डिपार्टमेंट में कार्यरत हैं

इनके अनुसार जो भी CV ऑनलाइन आते हैं उनको सेलेक्ट hone me job criteria ko match Karne Wale Ki key words. Ka prayog Karna chahie.

कैंडिडेट को इस बात की जानकारी अच्छे से होनी चाहिए कि naukri.com और मास्टर जैसे ऑनलाइन जॉब सर्च इंजन पर जितने भी CV सेलेक्ट होते हैं वह सब एक एल्गोरिदम के आधार पर होते हैं हर एक जॉब पोर्टल का अपना सर्च एल्गोरिदम होता है जिसमें कीवर्ड सेट किए जाते हैं

For example agar aap naukri.com per civil engineer jobs ke liye search kar rahe hain toh Jin logo ne apne CV mein’ civil engineering jobs’ keyword set Karke Rakha Hai Un Sabhi candidates ke CV search result mein display Hote Hain

इसलिए कैंडिडेट को रिकमेंट किया जाता है कि वह हर महीने या वीकली अपने सीबी को अपडेट करते रहे और इंडस्ट्री की डिमांड के आधार पर CV में कीवर्ड्स को मेंशन करें?

Recommendations from naukari.com for CV selection ?

To aap to Jante Honge naukri.com number Van job portal Hai India mein aur Kafi log is per daily job search karte hain Lakhon log uska job search karte hain aur Apna CV use per upload Karte Hain

Yahan per main aapko Kuchh Chhoti Chhoti aur Jaruri Baat batana chah raha hun Jis per aap implement Karke Apke CV ko select hone mein help milegi

naukari.com me job recomadation का एक नोटिफिकेशन होता है जिसके द्वारा आपके प्रोफाइल से मैच करती हुई जॉब के बारे में आपको जानकारी भेजी जाती है

Yah Sabhi job alert aap aapke CV Mein mention ya aapke profile jo job preference Mention ki Jaati Hai Uske Aadhar per recommend hoti hai
इसका मतलब यह है कि आपको अपने naukri.com के जॉब प्रोफाइल को आपके प्रेफरेंस के आधार पर सेट करनी होती है जिससे आपको रिलेवेंट जॉब्स के बारे में जानकारी मिलती रहे

Profile perfomance for cv selection ?


प्रोफाइल परफॉर्मेंस क्या होता है?
Agar aapane naukri.com per apni profile Banai hai
toh us profile ka ek score hota hai jo ki naukari.com dwara set Kiya jata hai

agar aapki Ki job profile ka score 100% perc Hota Hai to aapke CV select hone ke chance bahut badh Jaate

Hain isliye yah behad jaruri hai ki aapki Jo profile Hai vah Puri Tarah Se updated aur 100% complete honi chahie.

Search Apperearance on naukari.com for cv selection

.
सर्च अपेरेंट क्या होता है


Jab Bhi naukri.com per recruiter ke dwara Kisi Vishesh job ke liye CV select Kiya Jata Hai Subah Jab Bhi Kisi Vishesh school ke liye naukri.com per search Karega tuva skill Jis keyword ke dwara search ki Jaati Hai vah keyword aapke CV ko search result mein Main laapata Hai Ki Nahin.

शॉर्ट में कहे तो सर्च करने के बाद आपकी प्रोफाइल सर्च रिजल्ट में टॉप पोजीशन पर आती है कि नहीं

सर्च रिजल्ट्स में टॉप पोजीशन पाने के लिए आपको लगातार अपनी प्रोफाइल और स्वीटी को अपडेट रखना पड़ेगा और उस पर ज्यादा से ज्यादा स्किन और कीवर्ड का प्रयोग करना पड़ेगा जिससे आपके सीबी को सेलेक्ट होने में ज्यादा चांसेस मिले

Activity level on naukri.com for CV selection?
एक्टिविटी लेवल क्या होता है


Activity level naukri.com per 1 parameter yah criteria Hai Jiski Aadhar per yah check kiya jata hai ki aap naukri.com per kitne active hai

Activity level ko improve karne ke kya tarike Hain?

Naukri.com के अकाउंट पर रेगुलर लॉगइन करना

Recruiter Ke Mel aur vaise score respond karna

Naukri profile ko update karna

How to make profile 100% ?

Attach latest resume
Show resume headline
Mentioned key skill
Employment status of past and present
Education
Project you have completed
Career profile
Personal details

अगर आप ऊपर दी गई सभी चीजें पूरी तरीके से हंड्रेड परसेंट कंप्लीट करते हैं तो आपके सर्च इंडेक्स में सीवी रैंक करने में काफी मदद मिलती है

What is the criteria for CV selection during online application naukri.com ?

To doston ab main aapko batata hun Jab Bhi Koi job Aati Hai to use job per Kafi sari resume aur CV upload ki Jaati Hai To unke bich aapko apna CV Agar select karvana hai To kin kin Bato Ka Dhyan Rakhna Padega

Agar aap niche Diye Gai Baton ka फॉलो करते हैं तो आप ke CV सिलेक्शंस के चांस बढ़ जाते हैं

cv selection
cv selection

EARLY applicant-


early applicant Kya Hota Hai?
जॉब पोस्ट होने के कितने दिन के अंदर आप उस जॉब को अप्लाई करते हैं? अगर जॉब पोस्ट होने के 2 या 3 दिन के अंदर इस जॉब को आप अप्लाई करते हैं तो आप early एप्लीकेंट कहलाते हैं

(की स्किल) KEY SKILL – key skill cv ko सेलेक्ट करवाने में सबसे बड़ा ब्रह्मास्त्र होता है और इसका वेटेज 47% होता है कहने का मतलब यह है कि यदि आपका CV की स्किल्स रिक्रूटर के जो प्रोफाइल को मैच करता है तो आपका सी भी जरूर सेलेक्ट होगा

Location –

recruiter Hamesha yah Chahta Hai Ki ki Jis locations ke liye job ki position hai uske liye candidate nearby location se a away available Ho jaen Kyunki nearby locations ko attend karne ke liye candidates Ke Aane Ke chances Jyada Hote Hain
इसलिए सीवी में हमेशा लोकेशन को अपडेट करते रहना चाहिए
Work experience – सीबी सिलेक्शन में यह 73% रोलप्ले करता है

तो दोस्तों मैंने अपने अनुभव और कुछ अनुभवी प्रोफेशनल्स के अनुभवों के आधार पर और naukri.com और अलग-अलग जॉब पोर्टल पर दिए गए रिकमेंडेशंस के आधार पर यह आर्टिकल लिखा है

और मैं उम्मीद करता हूं कि अगर आप ऊपर दिए गए गाइडलाइंस का पालन करते हैं तो आपका टीवीसेलेक्ट होने का जो चांस है वह काफी हद तक बढ़ जाएगा

In the last best of luck for your future

इंजीनियरिंग स्नातक बेरोजगार क्यों हैं?

pexels photo 897817

इंजीनियरिंग स्नातक बेरोजगार क्यों हैं?

मैं इस प्रश्न का उत्तर देने के योग्य हूं, क्योंकि मेरे पास 15 साल से अधिक आईटी कार्य अनुभव है और वर्तमान में मैं इंजीनियरिंग स्नातकों के प्रशिक्षण में अनुभव के साथ भावुक प्रशिक्षक हूं।

किस दृष्टिकोण ने मुझे शीर्ष कंपनियों में बहुत सारे उम्मीदवार रखने में मदद की, वास्तव में मैं गर्व से बता सकता हूं कि भारत में इंजीनियरिंग कॉलेजों की तुलना में प्लेसमेंट के संदर्भ में हमारे पास बेहतर परिणाम हैं।

सबसे पहले, भारत में इंजीनियरों की सबसे बड़ी संख्या के साथ-साथ इंजीनियरिंग शिक्षा संस्थानों की सबसे बड़ी संख्या है, भारत सालाना एक मिलियन इंजीनियरिंग स्नातकों का उत्पादन करता है, जिसमें 3500 इंजीनियरिंग कॉलेज हैं [स्रोत विकिपीडिया]

क्या उन सभी को अच्छी नौकरी मिलेगी, जवाब बहुत ज्यादा नहीं है। कई इंजीनियरिंग स्नातक वे निम्नलिखित कारणों से विफल हो जाते हैं कारण 1: मैंने देखा है कि 95% छात्र मूल्यांकन परीक्षा में असफल होते हैं जिसमें एप्टीट्यूड और बुनियादी तकनीकी जांच शामिल है कारण 2: भले ही उनमें से कुछ ने योग्यता को स्पष्ट कर दिया हो लेकिन फिर आमने-सामने होने के बावजूद वे अच्छी तरह से बोलने के लिए संघर्ष करते हैं और ऐसा इसलिए है क्योंकि उनके पास तकनीकी कौशल की कमी है।

कॉलेजों में ज्यादातर समय हम अपने लेक्चरर को एमटेक प्रोफेशनल पाते हैं, जिन्होंने कभी किसी कंपनी में काम नहीं किया, इसलिए लेक्चरर से स्टूडेंट तक का ज्ञान ट्रांसफर कैसे हो सकता है? कॉलेज केवल उपस्थिति, अनुशासन चाहते हैं।
भारत में इतने सारे कॉलेजों के साथ यदि वे उद्योग के विशेषज्ञों को नियुक्त करते हैं तो मुझे विश्वास है कि हमें एमएस करने के लिए विदेश जाने की आवश्यकता नहीं है, वास्तव में छात्र उच्च शिक्षा के लिए भारत आएंगे।

लेकिन मुझे यकीन है कि ऐसा कभी नहीं होगा 4 साल की इंजीनियरिंग में एक छात्र वास्तव में बहुत सी चीजें सीख सकता है बशर्ते कि व्याख्याताओं को व्यावहारिक रूप से संपर्क करना हो। इसलिए आज अधिकांश छात्र पिछले वर्षों के प्रश्नपत्रों का संदर्भ लेते हैं और अच्छे अंक प्राप्त करते हैं, लेकिन प्रैक्टिकल का क्या?

कई कंप्यूटर साइंस इंजीनियर इंजीनियरिंग के बाद साधारण एप्लिकेशन नहीं बना सकते, इसलिए अब यह स्पष्ट है कि इंजीनियरिंग के बाद बहुत से लोग बेरोजगार रहेंगे और बाद में कॉल सेंटर / बीपीओ में काम करना शुरू कर देंगे जिसके लिए आपको इंजीनियर बनने की आवश्यकता नहीं है