BETWEEN ARTICLE

ब्लॉग क्या होता है और उसे ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए जा सकते हैं?

हाय दोस्तों ब्लॉग से पैसे कमाने का जरिया जितना आसान लगता है उतना आसान होता नहीं है वह बोलते हैं ना दूर के ढोल सुहावने होते हैं ठीक उसी प्रकार ब्लॉक से पैसे कमाना कठिन है मगर असंभव नहीं है

मैं नीचे कुछ विकल्प दे रहा हूं जिनका प्रयोग करके  आप पैसे कमा सकते हैं

ब्लॉग क्या है

Dosti Darshan blog Ek Tarah ka writing skill Hota Hai jo ki aap apni website per upload Karke a Logon Ko Apne knowledge share kar sakte hain jisse Logon Ko Kisi particular topic ke bare mein madad milati hai

ब्लॉक किसी भी विषय में लिखा जा सकता है जैसे कि साइंस हो गया जैसे कि जॉब से रिलेटेड हो गया हेल्थ किड्स यीशु सोशल इश्यूज किसी पर भी लिखा जा सकता है

ब्लॉक के लिए कहां रजिस्ट्रेशन करें

दोस्तों अगर आप ब्लॉगिंग करना चाह रहे हैं तो आपको वर्डप्रेस की एक वेबसाइट किया ब्लॉग स्पॉट पर ब्लॉग लिख सकते हैं

ब्लॉग लिखने के बाद कैसे कैसे पैसे कमाए जा सकते हैं


Adsens dwara- दोस्तों यदि आपको कंटेंट बहुत ही अच्छा है तो आप गूगल ऐडसेंस पर अप्लाई करके अपने कंटेंट को मोनेटाइज कर सकते हैं मोनेटाइजेशन करने के लिए आपको कम से कम 20 आर्टिकल प्रकाशित करना पड़ता है

जो भी आर्टिकल आप प्रकाशित करेंगे वह आर्टिकल कहीं से भी कॉपी पेस्ट किया हुआ नहीं होना चाहिए नहीं तो आपको ऐडसेंस का अप्रूवल नहीं मिलेगा

जो भी आर्टिकल आप लिखने जा रहे हैं उसके बारे में आपको अच्छा खासा नॉलेज होना चाहिए यदि आपको नॉलेज नहीं है तो आप दूसरी वेबसाइटों से रिसर्च करके उस पर एक यूनिक आर्टिकल लिखकर प्रकाशित कर सकते हैं मगर ध्यान रहे कि आर्टिकल डुप्लीकेट कंटेंट की श्रेणी में नहीं आना चाहिए

डुप्लीकेट कंटेंट चेकर टूल होता है उसका उपयोग करके आप चेक कर सकते हैं कि आपका कंटेंट डुप्लीकेट है या ओरिजिनल है

गूगल ऐडसेंस का अप्रूवल लेने के लिए आपकी वेबसाइट गूगल ऐडसेंस के नॉर्म्स और कंडीशंस को फॉलो करना चाहिए

एडल्ट कंटेंट और ऐसी सामग्री जो कि लोगों को नफरत फैलाने और सोशल मीडिया पर गलत प्रभाव डालने के मकसद से बनाई गई है ऐसे कंटेंट कभी ना डालें

गूगल एंड सेंस एक अच्छा सोच है जो आपको अच्छी खासी आदमी भी दे सकता है बशर्ते कि आपका कंटेंट यूनिक होना चाहिए

कंटेंट कम से कम 600 वर्ड का होना चाहिए या इससे भी ज्यादा ताकि जो भी आपके कंटेंट को पड़ रहा है उसे काफी अच्छा नॉलेज मिले और आपकी वेबसाइट पर बार-बार विजिट करें

Affiliate marketing se paise kamaye


Affiliate मार्केटिंग का मतलब होता है कि किसी दूसरे कंपनी के प्रोडक्ट को प्रमोट करना और उससे बदले में कुछ कमीशन मिलती है

आजकल ऑनलाइन शॉपिंग की होड़ सी लग गई है और लोग भाग कोई भी प्रोडक्ट खरीदने के पहले उसके रिव्यूस के बारे में और प्रोडक्ट कैसा है इसके बारे में जानने के लिए उत्साहित रहते हैं

बस आपको उस प्रोडक्ट जो कि बेस्ट सेलिंग है हाईएस्ट सेलिंग है उसके बारे में रिव्यूज देना है उसको नोट की अनबॉक्सिंग उस प्रोडक्ट के एमआरपी कास्ट्स प्रोडक्ट का यूज करने के बाद क्या फायदा होता है इन सब के बारे में आप पार्टिकल लिख सकते हैं

बड़ी बड़ी इ कॉमर्स कंपनी है जैसे कि अमेजॉन फ्लिपकार्ट स्नैपडील जैसी कंपनियां एफिलिएट मार्केटिंग का ऑप्शन देती हैंIne companiyon ke affiliate marketing ka registration karne ke bad Jis bhi product ka aap reviews dekhna Chahte Hain uski referral link ko generate kar sakte alag alag social media platform aapke YouTube channel aur aapke blocks mein Main ise प्रकाशित कर सकते हैं

जब भी कोई इस लिंग का प्रयोग करके परचेसिंग करता है तो ई-कॉमर्स कंपनियां उस पर कुछ कमीशन आपको देती है

Blogging karne se pahle Kuchh mahatvpurn jankariyan aapko Janna jaruri hai

SEO

Search Engine Optimisation technique दोस्तों अगर आप कोई ब्लॉग राइटिंग कर रहे हैं या कोई ब्लॉक लिख रहे हैं तो यह बहुत जरूरी होता है कि आपका जो भी कंटेंट है वह गूगल सर्च में टॉप टेन में आना जरूरी है
ऐसा करने से आपके वेबसाइट पर ट्रैफिक बढ़ेगा जितना ज्यादा ऑर्गेनिक ट्रेफिक आपके वेबसाइट पर आएगा आपको उतना ही ज्यादा ऐड रिवेन्यू होगा

सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन उसके लिए कुछ टेक्निक बता रहा हूं यह बेसिक टेक्निक्स है एडवांस एस यू जानने के लिए आप मेरे से कांटेक्ट कर सकते हैं

How to choose keyword-

दोस्तों और जो भी आर्टिकल लिखने जा रहे हैं उसका जो कीवर्ड आपको चूज करना है वह कीवर्ड आपके साइड टाइटल आपके मेटा डिस्क्रिप्शन और आपके पैरा लिंक में होना जरूरी होता है

साइट टाइटल क्या होता है

जिस विषय पर आप आर्टिकल लिखने जा रहे हैं उसके लिए एक टाइटल चेंज करना पड़ता है उसे साइड टाइटल कहते हैं और एग्जांपल यदि आप वजन घटाने के ऊपर आर्टिकल लिख रहे हैं तो आपको उसका कुछ न को टाइटल देना पड़ेगा जैसे कि हाउ टो लूज वेट लूज योर वेट इन 15 मिनट लाइक दैट

मेटा डिस्क्रिप्शन क्या होता है?

जब आप गूगल पर किसी भी कीवर्ड के लिए सर्च करते हैं तो उसकी वर्ड से रिलेटेड वेरी आपको सर्च रिजल्ट में दिखाई देती है वही मेटा डिस्क्रिप्शन सोता है मेटा डिस्क्रिप्शन को एडिट करने के लिए आप रैंक math yoeast seo टूल का प्रयोग कर सकते हैं

minimum content criteria-

जिस विषय पर आप आर्टिकल लिख रहे हैं वह कम से कम 600 वर्ड या इससे भी ज्यादा होना आवश्यक होता है ताकि पढ़ने वाले को ज्यादा से ज्यादा जानकारी मिले और वह आपकी वेबसाइट पर विजिट हो गूगल की जो सर्च एल्गोरिदम इस प्रकार से बनाई जाती है जब वह किसी पार्टिकुलर की वर्ल्ड के लिए सर्च करता है तो वह कीवर्ड पर्टिकुलर आर्टिकल में कितने बार आता है इसके ऊपर किस आधार पर गूगल उस पार्टिकुलर आर्टिकल्स को सर्च रिजल्ट में टॉप पोजीशंस पर राज करता है

कीवर्ड डेंसिटी क्या होता है

जिस पार्टी कूलर कीवर्ड का यूज करके आप आर्टिकल लिख रहे हैं उसकी वर्ल्ड का डेंसिटी कितना होना चाहिए यह एक बहुत जरूरी वर्क है
Keyword density =keywords appears per 100 word
प्रति 100 वार्ड में आपका कीवर्ड कितने बार आ रहा है यह उसकी कीवर्ड डेंसिटी को दर्शाता है और एग्जांपल के लिए अगर 100 वर्ड में आपका कीवर्ड दो बार आता है तो इसकी डेंसिटी दो होती है अगर तीन बार आ रहा है तो तीन होती है आपके कीवर्ड की डेंसिटी दो से 5 के बीच होनी जरूरी है

rich content

रिच कंटेंट का मतलब होता है कि आप अपने आर्टिकल्स में वीडियोस और पिक्चर्स का प्रयोग करके यूजर्स को समझाने में ज्यादा परिपक्व हो सकते हैं
आर्टिकल में कम से कम दो या चार पिक्चर ऐड कर देना चाहिए और उस पिक्चर्स का जो अल्टरनेटिव नेमस रहेगा उसमें कीवर्ड जरूर आना चाहिए

हेडिंग्स का यूज करना-

जब आप आर्टिकल से लिखते हैं तो अलग-अलग टाइटल्स देते हैं और उन टाइटल्स को आप अगर अलग से सो करवाना चाहते हैं तो उनको हेडिंग्स देनी पड़ती है जैसे कि H1,H2,H3,H4,H5,H6 headings.
आप जो कि word  यूज कर रहे हैं वह H2  H3 h4 हेडिंग्स में आना जरूरी होता है


दोस्तों ऊपर जो जो जानकारी मैंने दी है उसके अलावा भी बहुत सारी जानकारी है मगर यह अगर आप रिंग बेसिक जानकारियों का उपयोग करके ब्लॉग राइटिंग करते हैं तो आप जरूर इसमें सफलता प्राप्त कर सकते हैं मगर आपको पेशेंस रखना बहुत जरूरी है क्योंकि ब्लॉगर में आजकल कंपटीशन बहुत है इसलिए आपको सही आर्टिकल और यूनीक कंटेंट लिखकर ब्लॉगिंग में सक्सेस प्राप्त कर सकते हैं